अमर शहीद समीर को दी श्रद्धांजलि, वर्ष 2002 में पाई थी शहादत 

0
615

अमर शहीद समीर को दी श्रद्धांजलि, वर्ष 2002 में पाई थी शहादत 
पाँवटा साहिब के अमर शहीद समीर के पैतृक गांव राजपुर स्थित शहीदी स्थल पर भूतपूर्व सैनिक संगठन पांवटा साहिब-शिलाई क्षेत्र व परिवार तथा गांव के सदस्यों ने अमर शहीद को श्रद्धा सुमन अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। शहीद समीर 3 ग्रिनेडियर में भर्ती हुए थे और 2002 में 39 राष्ट्रीय राइफल के अंतर्गत जम्मू कश्मीर के पुंछ सेक्टर के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र सुरनकोट में तैनात थे। 05 मार्च 2002 को आतंकवादियों से मुठभेड़ के दौरान सिपाही समीर वीरगति को प्राप्त हुए। वर्तमान में शहीद समीर के परिवार में उनकी माता कमला देवी व सेना से सेवानिवृत्त उनके बड़े भाई अमित कुमार व उनकी पत्नी है।

Bhushan Jewellers

इस मौके माता कमला देवी व भाई अमीत कुमार ने स्मारक स्थल पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया। उसके उपरांत राष्ट्रीयगान, तदोपरांत उपस्थित सभी लोगों ने शहीद समीर की स्मृति में पुष्पांजलि अर्पित की। इस मौके पर  उपस्थित लोगों ने भारत माता की जय व शहीद समीर अमर रहे के नारे लगाए और भूतपूर्व सैनिक सगंठन पांवटा साहिब व शिलाई क्षेत्र की तरफ से केदार सिंह ने उपस्थित सभी नौजवानों से राष्ट्र के प्रति समर्पित होकर काम करने की अपील की तथा देश के लिए हमेशा मर मिटने के लिए तैयार रहने की बात की।

Advt Classified

इस मौके पर शहीद समीर की माता कमला देवी व भाई अमित कुमार, पंचायत प्रतिनिधि कंठी राम तथा भूतपूर्व सैनिक संगठन पांवटा साहिब व शिलाई क्षेत्र से केदार सिंह, अमित कुमार, जय किशन व स्थानीय ग्रामवासी तथा अन्य गणमान्य सदस्य मौजूद रहे।

Advt Classified

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here