बिल का भुगतान न करने पर इन विद्यालयों में पसरा अंधेरा,नोनिहालो के बहे पसीने 

0
512

बिल का भुगतान न करने पर इन विद्यालयों में पसरा अंधेरा,नोनिहालो के बहे पसीने
चुनाव आयोग अब अँधेरे में कैसे चलाएगा वोटिंग मशीने 
डिजिटल सिरमौर/पांवटा साहिब
सिरमौर जिले के गिरिपार क्षेत्र की 14 प्राथमिक पाठशालाओं में अंधेरा पसर गया है। इन पाठशालाओं में ट्यूब लाइट, बल्ब, पंखे और एलईडी शोपीस बनकर रह गए हैं। गर्मियों के मौसम में कक्षाओं में बैठे बच्चों का हाल बेहाल हो गया है। बिजली बोर्ड ने बिजली बिल का भुगतान न होने पर इन पाठशालाओं के बिजली कनेक्शन काट दिए हैं।

Bhushan Jewellers

जानकारी के अनुसार यह स्कूल लंबे समय से बिजली बिल का भुगतान नहीं कर रहे थे। मोटी देनदारी होने पर बोर्ड को मजबूरन यह कदम उठाना पड़ा। गिरिपार क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले प्राथमिक शिक्षा खंड खोड़ोवाला के अंतर्गत आने वाली 14 प्राथमिक बिजली बोर्ड पुरुवाला डिवीजन के सहायक अभियंता अरुणदीप सिंह ने बताया कि बिजली बिल का भुगतान न करने वाले स्कूलों को नोटिस जारी किया गया है। कई स्कूल ऐसे हैं जिनके बिल सालों से लंबित हैं। बोर्ड को मजबूरन ऐसे स्कूलों के बिजली कनेक्शन काटने पड़े।

Advt Classified

बोर्ड ने लंबे समय से बिजली बिल का भुगतान नहीं करने पर प्राथमिक पाठशाला अंबोया, राजपुर, दिघाली, कांगड़ा, अदवाड़, डांडीवाला, धमोण, भंगानी- 1 भगानी 2, गोजर, मेहरूवाला, खोदरी माजरी और आगरों का बिजली का कनेक्शन काट दिया है। बिजली कनेक्शन कटने के बाद स्कूलों में अंधेरा पसर गया है। गर्मी के मौसम में बच्चों को बिना पंखों के ही पढ़ाई करनी पड़ रही है। सबसे ज्यादा दिक्कत उन स्कूलों में आ रही है जिनमें बच्चों की संख्या अधिक है लेकिन कमरे बहुत छोटे हैं। बिजली न होने के कारण सरकार ने जो स्मार्ट क्लास रूम की व्यवस्था स्कूलों में की थी, वह भी धरी की धरी रह गई है।

Advt Classified

बता दे कि आगामी माह में लोकसभा चुनाव भी है. चुनाव आयोग ने इन स्कूलों को वोट डालने का केंद्र बनाया है और इन स्कूलों में अँधेरा पसरा हुआ हुआ ऐसा में वोटिग मशीने कैसे काम कर पायगी.

उधर इस बारे में कार्यवाहक बीईईओ सुरेखा रानी ने बताया कि वर्ष २०२४ व २०२५ का बजट अभी तक नही आया है. जिस कारण बिलों का भुगतान नहीं किया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here