धन बल से जनमत का अपमान करने वालों को अवश्य सबक सिखाएगी प्रदेश की जनता: मुख्यमंत्री

0
379

धन बल से जनमत का अपमान करने वालों को अवश्य सबक सिखाएगी प्रदेश की जनता: मुख्यमंत्री
जन समस्याओं का समयबद्ध निदान प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता

विधानसभा क्षेत्र शिलाई में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि जन समस्याओं का समयबद्ध निदान उनकी प्राथमिकता है और वह राजनीतिक हित साधने के लिए समस्याओं को लटकाने में विश्वास नहीं रखते।

Bhushan Jewellers

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार आमजन को राहत पहुंचाने के लिए समय पर निर्णय ले रही है। उन्होंने कहा कि चुनावी फायदे के लिए नहीं अपितु जन कल्याण के लिए सोच समझकर निर्णय लिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह स्वयं आम परिवार से सम्बन्ध रखते हैं और उनका यह प्रयास है कि आमजन की समस्याओं के निदान के लिए कल्याणकारी योजनाएं बनाई जाएं।

Advt Classified

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के सभी वर्गों के कल्याण के लिए कार्य कर रही है और जन-जन के आशीर्वाद से सभी बाधाओं को पार कर इस दिशा में सकारात्मक कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने जो वायदे किए उन्हें पूरा किया जा रहा है और यह प्रयास किया जा रहा है कि वित्तीय स्थिति में सुधार लाते हुए जनकल्याण का मार्ग प्रशस्त किया जाए।

Advt Classified

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि भ्रष्टाचार उन्मूलन के लिए भी राज्य सरकार दिन-रात कार्य कर रही है। युवाओं को वरीयता के अनुसार रोज़गार उपलब्ध करवाने के दृष्टिगत भ्रष्टाचार का पर्याय बन चुके हिमाचल प्रदेश अधीनस्थ कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर को भंग किया गया अपितु भ्रष्टाचारियों पर विधि सम्मत कार्यवाही भी की गई। प्रदेश सरकार एक ओर युवाओं को योग्यता के अनुसार रोज़गार दिलवाने के लिए बचनवद्ध है, वहीं 680 करोड़ रुपए की राजीव गांधी स्वरोज़गार स्टार्ट-अप योजना, 500 करोड़ रुपए की हिम गंगा योजना और सौर ऊर्जा जैसी योजनाओं के माध्यम से युवाओं के लिए स्वरोज़गार के बेहतर अवसर सृजित किए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि गत वर्ष बरसात में आई आपदा पीड़ितों को राहत पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार ने राहत मैनुअल में बदलाव कर राहत राशि में कई गुणा की बढ़ौतरी की तथा सीमित संसाधनों के बावजूद उनके पुनर्वास के लिए 4500 करोड़ रुपए का विशेष पैकेज जारी किया। उन्होंने कहा कि सिरमौर ज़िला में इस आपदा में 66 मकान पूर्ण रूप से तथा 718 मकान आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुए। इन्हें राहत राशि के रूप में लगभग 20 करोड़ रुपए प्रदान किए गए।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार शिक्षा क्षेत्र को प्रतिस्पर्धात्मक रूप से बेहतर बना रही है और प्रथम कक्षा से अंग्रेजी मीडियम में पढ़ाई तथा राजीव गांधी डे-बोर्डिंग स्कूल इस दिशा में महत्वपूर्ण साबित होंगे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में स्थापित किए जा रहे आदर्श स्वास्थ्य संस्थान ग्राम स्तर पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह जनता के बल पर राजनीति करते हैं और उनके लिए कुर्सी आम आदमी की आशाओं को पूरा करने का साधन है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि धन के बल पर जनता के मत का अपमान करने वालों को लोकसभा चुनाव में अवश्य सबक सिखाएं। उन्होंने कहा कि विपक्षी दल का लोकतंत्र का गला घोंटने का सपना केवल सपना ही रहेगा।

इससे पहले उद्योग, संसदीय कार्य तथा श्रम एवं रोज़गार मंत्री हर्षवर्द्धन चौहान ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया और क्षेत्र की विभिन्न मांगों से उन्हें अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी की सरकार काम करने में विश्वास रखती है और मुख्यमंत्री के आशीर्वाद से शिलाई क्षेत्र को विकास का आदर्श बनाया जाएगा। खण्ड कांग्रेस समिति शिलाई के अध्यक्ष सीता राम शर्मा ने भी मुख्यमंत्री का स्वागत किया। गिरीपार हाटी कल्याण मंच सिरमौर के प्रताप सिंह तोमर ने भी अपने विचार रखे।

इस अवसर पर प्रदेश विधानसभा के उपाध्यक्ष विनय कुमार, नाहन के विधायक अजय सोलंकी, पावंटा साहिब के पूर्व विधायक किरणेश जंग, ज़िला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष आनन्द परमार, प्रदेश कांग्रेस समिति के सचिव अवनीत लाम्बा, विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की उम्मीदवार रहीं दयाल प्यारी, कांग्रेस पार्टी के अन्य पदाधिकारी, पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि, अन्य गणमान्य व्यक्ति, उपायुक्त सिरमौर सुमित खिमटा, पुलिस अधीक्षक सिरमौर रमन कुमार मीणा, अन्य वरिष्ठ अधिकारी तथा बड़ी संख्या में शिलाई निवासी इस अवसर पर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here